Short News

2019 में सपा-बसपा से मुकाबले को BJP ने चला 'ब्रह्मास्त्र'

2019 में सपा-बसपा से मुकाबले को BJP ने चला 'ब्रह्मास्त्र'

2019 के लोकसभा चुनाव में यूपी के अंदर भाजपा का विजय रथ रोकने के लिए जहां सपा-बसपा और आरएलडी हाथ मिलाकर मैदान में उतरने को तैयार हैं, तो वहीं भगवा खेमा भी इस गठबंधन से मुकाबले की रणनीति बनाने में जुट गया है। गोरखपुर, फूलपुर और कैराना लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में मिली हार के बाद भाजपा ने 2019 से पहले यूपी के गैर-यादव ओबीसी वोटों को साधने के लिए एक खास रणनीति बनाई है।

पीछे की पॉकेट में न रखें पर्स, हो सकती है यह परेशानी

पीछे की पॉकेट में न रखें पर्स, हो सकती है यह परेशानी

पीछे की जेब में पर्स रखकर बैठना मांशपेशियों और रीढ़ की हड्डी को नुकसान पहुंचा देता है, जिससे न्यूरो की समस्या बढ़ जाती है। इसलिए इससे सजग रहने की आवश्यकता है। पर्स जिस ओर रहता है उस पैर की मांशपेशियों को दबाता है। पर्स की वजह से लोग थोड़ा तिरछा होकर बैठते हैं। इससे रीढ़ की हड्डी के टेढ़े होने की संभावना बन जाती है। ऐसी अवस्था में थोड़ी सी लापरवाही भारी पड़ सकती है।
महिलाओं के लिए सेफ नहीं है भारत : जॉन अब्राहम

महिलाओं के लिए सेफ नहीं है भारत : जॉन अब्राहम

एक्टर जॉन अब्राहम की फिल्म सत्यमेव जयते रिलीज हो चुकी है। एक इंटरव्यू में महिला मुद्दे पर जॉन ने कहा- मैं ऑन रिकॉर्ड यह कहने को तैयार हूं कि भारत महिलाओं और पशुओं के लिए सेफ नहीं है। हम कुछ उन चुनिंदा देशों में से हैं जहां लोग घूरकर भी महिलाओं की बेइज्जती कर देते हैं। यह बहुत ही दुखद है और यह उस समाज पर सवाल उठाता है जहां मैं रहता हूं।
दिल्ली में सुकून के साथ घूमना-फिरना है तो लोटस टेंपल आएं

दिल्ली में सुकून के साथ घूमना-फिरना है तो लोटस टेंपल आएं

दिल्ली में बसा यह बहाई मंदिर अपने अदभुत आकार के लिए तो फेमस है ही, साथ ही इसे दिल्ली शहर का मुख्य केंद्र भी माना जाता है। दिन में सफेद मोती की तरह चमकने वाला यह टेंपल रात को पानी में रंगबिरंगे सितारों जैसा जगमगाता नजर आता है। यहां पर आपको एक अच्छा सुकून मिलेगा। बता दें, दिल्ली का ये लोटस टेंपल बहुत अच्छा है। भागदौड़ भरी जिंदगी से सुकून चाहिए तो ये जगह सबसे अच्छी है।
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more